इंग्लैंड

यह पांच खिलाड़ी काट सकते है टीम इंडिया से युवराज का पत्ता

Posted on

यह पांच खिलाड़ी काट सकते है टीम इंडिया से युवराज का पत्ता

सिक्सर किंग के नाम से पहचाने जाने वाले युवराज सिंह भारतीय टीम के एक धाकड़ बल्लेबाज साबित हुए हैं। लेकिन उनकी मौजूदा फॉर्म में फिस्सडी साबित होना टीम के लिए खतरा बना हुआ है। इस साल की शुरुआत में उन्होंने टीम में मौका दिया गया था, जिसका उन्होंने भरपूर फायदा उठाते हुए इंग्लैंड के खिलाफ 150 रन ठोक डाले थे। लेकिन इसके बाद हुई आईसीसी चैंपियंस टॉफी में वह कुछ खास नहीं कर सके । विंडीज के खिलाफ चल रही सीरिज में भी वह पहले मैच में 4 और दूसरे मैच में 14 रनों पर आऊट हो गए। फील्डिंग में भी उनके द्वारा गलतियां नजर आई। आईए आपको बताते है ऐसे पांच खिलाड़ी जो आने वाले समय में युवराज का टीम से पत्ता काट सकते हैं|

अधिक जानकारी के लिए –

Advertisements

स्मिथ ने विराट सेना को हराकर लिया 17 साल पुराना बदला

Posted on

ऑस्‍ट्रेलिया ने पुणे टेस्‍ट में भारत को 333 रनों से हराकर 4 टेस्ट मैचों की सीरीज में 0-1 से बढ़त बना ली है। जीत के लिए मिले 431 रन का पीछा करते हुए मैच के तीसरे ही दिन भारत की पारी 107 रन पर सिमट गई। भारत की साल 2012 के बाद घर में पहली टेस्‍ट हार है। इससे पहले उसे इंग्‍लैंड ने 2012 में हराया था।

%e0%a4%b8%e0%a5%8d%e0%a4%ae%e0%a4%bf%e0%a4%a5-%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%b5%e0%a4%bf%e0%a4%b0%e0%a4%be%e0%a4%9f-%e0%a4%b8%e0%a5%87%e0%a4%a8%e0%a4%be-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%b9%e0%a4%b0%e0%a4%be

पुणे टेस्‍ट में लेफ्ट आर्म स्पिनर स्‍टीव ओकीफी ने दूसरी पारी में 35 रन देकर छह विकेट झटके। इस तरह से उन्‍होंने पुणे टेस्‍ट में कुल 12 विकेट लिए। इस हार के साथ ही भारतीय टीम का कप्‍तान विराट कोहली के नेतृत्‍व में लगातार 19 टेस्‍ट में अजेय रहने का सफर भी थम गया। इस तरह से ऑस्‍ट्रेलिया ने लगभग 17 साल बाद भारत से हिसाब चुकता कर दिया है।

इंग्लैंड को पछाडऩे के लिए कोहली ने अपनाया नया तरीका

Posted on Updated on

भारतीय टैस्ट कप्तान विराट कोहली इंग्लैंड की पिचों तथा परिस्थितियों को समझने के लिए वहां काउंटी क्रिकेट खेलने पर विचार कर रहे हैं। भारत को 2018 में टेस्ट सीरीज खेलने के लिए इंग्लैंड का दौरा करना है। लेकिन विश्व में दूसरे नंबर के टेस्ट बल्लेबाज विराट का रिकॉर्ड इंग्लैंड में ठीक नहीं रहा है। उन्होंने इंग्लैंड की धरती पर 10 टैस्ट पारियों में मात्र 138 रन ही बनाए हैं। लेकिन अब वह अपने इस रिकॉर्ड को सुधारने के लिए टीम के दौरे से पहले वहां पर काउंटी क्रिकेट खेलकर वहां की पिचों और परिस्थितियों को समझना चाहते हैं। विराट ने इंग्लैंड के खिलाफ शुरु होने वाले 5वें और अंतिम टैस्ट मैच की पूर्वसंध्या पर गुरुवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा, यदि मुझे मौका मिलता है तो मैं निश्चित रूप तौर पर वहां जाना चाहूंगा।

%e0%a4%87%e0%a4%82%e0%a4%97%e0%a5%8d%e0%a4%b2%e0%a5%88%e0%a4%82%e0%a4%a1-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%aa%e0%a4%9b%e0%a4%be%e0%a4%a1%e0%a4%a9%e0%a5%87-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%b2%e0%a4%bf%e0%a4%8f

विराट ने कहा, एक समय पर हम केवल खेल पर ध्यान देते हैं। टीम उसी आक्रामकता के साथ मैदान में उतरेेगी जिस आक्रामकता के साथ हमने पिछले टेस्ट में जीत दर्ज की थी। हर दिन और हर गेम अलग होता है। लेकिन सभी मैचों में हम आक्रामकता के साथ ही मैदान में उतरते हैं चाहे मैच हारे, जीते या ड्रा हो। हम स्कोर पर ध्यान नहीं देते बल्कि अपना स्वभाविक खेल खेलते हैं। उन्होंने अपने निचले क्रम के बल्लेबाज खासकर स्पिनरों की जमकर तारीफ की। भारतीय बल्लेबाज ने कहा, निचले क्रम के बल्लेबाजों का प्रदर्शन बेहद शानदार रहा है। अश्विन ने अपनी बेहतरीन बल्लेबाजी से अन्य बल्लेबाजों के लिए एक उदाहरण पेश किया है। जडेजा ने मोहाली में अच्छा प्रदर्शन किया।

अधिक जानकारी के लिए –